प्रकाशित आईडी: 14/ 2019

वापस प्रेस कक्ष

 15 June , 2019

 रील में “वार्षिक व्यावसायीक मीट” व “वार्षिक उद्बोधन” सम्पन्न



राजस्थान इलेक्ट्रॉनिक्स एण्ड इन्स्ट्रूमेंट्स लिमिटेड, (रील) जयपुर में “वार्षिक व्यावसायीक मीट” व “वार्षिक उद्बोधन“ का आयोजन किया गया। जिसमे मुख्य कार्यालय एवं क्षेत्रीय कार्यालय के अधिकारियों व कर्मचारियो ने भाग लिया। सभी क्षेत्रीय अधिकारियों व विभागाध्यक्षो द्वारा प्रेजेंटेशन के जरिये वित्तीय वर्ष 2018-19 की उपलब्धियों, चुनोतियों, नई तकनीक पर आधारित कार्यो एवं भविष्य की योजनाओ पर चर्चा की गई। इस अवसर पर रील के प्रबंध निदेशक डॉ. ए. के. जैन ने समस्त अधिकारियों खास तौर पर क्षेत्रीय अधिकारियों का उत्त्साहवर्धन किया जो कि कंपनी के “ब्रांड एम्बेसेडर“ है।

डॉ. जैन ने कहा कि रील ने इनोवेशन के माध्यम से ऐसे उपकरण और सेवाएँ प्रदान की है जिससे हर व्यक्ति, हर संगठन सशक्त बना है। रील ने इतिहास बनाते हुए टेक्क्नोलोजी को ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुचायां है और रील ग्रामीण भारत की अर्थव्यवस्था के उत्थान के लिए पूरी तरह समर्पित है।

उन्होने यह भी बताया कि कंपनी ने विगत आठ वर्षो मे निरंतर अपने कारोबारी लक्ष्यो को प्राप्त किया है और गत वर्ष 2018-19 में अभी तक का उच्चतम टर्नओवर हासिल किया है तथा कंपनी की नेटवर्थ 5 गुना तक बढ़कर 100 करोड़ से भी ज्यादा हो गई है। डा. जैन ने “वार्षिक व्यावसायीक मीट” को संबोधित करते हुए कहा की कंपनी को सर्क्युलर अर्थव्यवस्था, उत्पादो के नवीनीकरण, कृत्रिम बुद्धिमत्ता और बी एम सी संबन्धित व्यवसाय पर ध्यान देना होगा साथ ही चैनल साझेदारी पर ज़ोर देना चाहिए। उन्होने मुख्य कार्यालय एवं क्षेत्रीय कार्यालय के अधिकारियों को कंपनी के विजन 2022 के तहत 1000 करोड़ के चुनौतीपूर्ण कारोबारी लक्ष्य पर ध्यान केन्द्रित करने को कहा।

इसी क्रम मे डा. जैन ने अपने “वार्षिक उद्बोधन” में कंपनी के कर्मचारियो व अधिकारियों को संबोधित करते हुए अगले वर्ष 2019-20 के लिए 400 करोड़ के ऑर्डर बूकिंग के लक्ष्य को ध्यान में रखकर कर्तव्यनिष्ठा से काम करने के लिए उनका उत्साहवर्धन किया, जिससे कंपनी 2019-20 के चुनौतीपूर्ण कारोबारी लक्ष्य को प्राप्त कर सके। इस अवसर पर डॉ. जैन ने कहा कि कम्पनी रणनीतिक रूप से भारत सरकार के ई-मोबिलिटी मिशन में फेम स्कीम के तहत ईवी चार्जिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर के निर्माण और स्थापना के माध्यम से योगदान करेगी। कम्पनी एग्रो इलेक्ट्रॉनिक्स, नवीकरणीय ऊर्जा और ई-मोबिलिटी के क्षेत्रों में विभिन्न स्तरों पर कौशल अंतर को कम करने के लिए स्किलिंग इंडिया मिशन में योगदान देने के लिए तत्पर है। साथ ही कम्पनी में चल रही विभिन्न गतिविधियों को मेक इन इंडिया, नेशनल सोलर मिशन, राष्ट्रीय डेयरी योजना, डिजिटल इंडिया और स्वच्छ भारत मिशन जैसे राष्ट्रीय मिशनों के साथ जोड़ा गया है।

इस अवसर पर डॉ. जैन ने उपस्थित सभी कर्मचारियो को आश्वस्त किया कि कम्पनी प्रगतिशील पथ पर लगातार आगे बढ़ती रहेगी और भारत सरकार, राज्य सरकार, अन्य हितधारकों और रील कर्मचारियों की समर्पित टीम प्रयासो से निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करेगी।

 

 

REIL Organized "Annual Business Meet" and "Annual Address by MD REIL"

 

"Annual Business Meet" and "Annual Address by MD REIL" were organized in Rajasthan Electronics and Instruments Limited, (REIL) Jaipur. On this occasion officers and employees of the main office and regional office were present. Regional Heads & Divisional Heads depicted their achievements, challenges, new technology-based works and future plans of the financial year 2018-19. On this occasion Managing Director; Dr A.K. Jain inspired all the Officials, especially the Regional Heads, who are the Company's "Brand Ambassador".

 

Dr. Jain said that the REIL has provided tools and services through innovation, so that every person, every organization is empowered. While making history, technology has reached rural areas and the REIL is fully dedicated to the upliftment of rural India's economy.

 

He also informed that the Company has achieved its business targets in series in last eight years and has achieved the highest turnover of last financial year 2018-19 and the net worth of the Company has gone upto 5 times to more than 100 crore. While addressing the "Annual Business Meet", Dr. Jain said that the Company should focus on the Circular Economy, Renewal of Products, Artificial Intelligence and BMC-related business as well as emphasized on Channel Partnership. He asked the Senior Officers and Regional Heads at Regional Office officials to focus on the challenging business target of 1000 crore under the Company's Vision 2022.

 

Dr. Jain, reiterated in his "Annual Address" addressing to the employees and officials of the Company encouraging them to work with devotion to keep the order bookings of 400 crore for the next financial year 2019-20, that the Company could achieve a challenging business target of 2019-20. On this occasion, Dr. Jain said that the Company will strategically contribute through the creation and installation of EV Charging Infrastructure under FAME Scheme in the e-Mobility Mission of the Government of India. Company’s Agro Electronics & Renewable Energy Business Group and in field of e-Mobility is ready to contribute to Skilling India Mission to reduce the skill gap at different levels. Along with this, various activities in the Company have been linked to National Missions such as Make in India, National Solar Mission, National Dairy Plan, Digital India and Clean India Mission.

 

On this occasion, Dr. Jain assured all the employees present over there that, the Company would continue to progress on the progressive path and with dedicated efforts of the Government of India, State Government, other stakeholders and REIL employees, would achieve the desired goals.

 

 *******