Release id: 33/ 2015

Back to Press Room

4 November 2015

राजस्थान इलेक्ट्रॉनिक्स एण्ड इन्स्ट्रूमेन्ट्स लिमिटेड, (रील) ने रूपये 1.03 करोड का लाभांश दिया

 

श्री ए.के. जैन, प्रबन्ध निदेशक, रील द्वारा माननीय मंत्री श्री अनंत गीते, भारी उद्योग और लोक उद्यम मंत्रालय, भारत सरकार एवं श्री राजन एस. कटोच, सचिव, भारी उद्योग विभाग की अनुग्रह उपस्थिति में अध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक, इन्स्ट्रूमेन्टेशन लिमिटेड कोटा (होल्डिंग कम्पनी) को लाभांश राशि रूपयें 1.03 करोड का लाभांश का भुगतान किया। रील द्वारा पिछले चार वर्षों से लगातार उच्चतम लाभांश दिया जा रहा है।

 

इस अवसर पर माननीय मंत्री श्री अनंत गीते, भारी उद्योग और लोक उद्यम मंत्रालय, भारत सरकार ने रील के काम को स्वीकार करते हुए बल दिया कि पीसयू को सरकार के ’’मेक इन इंडिया’’ लक्ष्य के साथ काम करना चाहिए और अपनी गतिविधियों से भारत को एक वैष्विक विनिर्माण केन्द्र बनाने में ध्यान केन्द्रित करें। उन्होंने कहा कि देश सार्वजनिक क्षेत्र के उद्योगों के लिए असिमित विकास क्षमता प्रदान करता। घरेलू मूल्य संवर्धन और तकनीकी गहराई बढाने के लिए, रील को विविधिकरण पर ध्यान केन्द्रित करने की सलाह दी।

 

श्री ए.के. जैन, प्रबन्ध निदेशक, रील ने बताया कि रील देश में एक सबसे बडा ऑफ ग्रिड एसपीवी समाधान प्रदाता है, साथ ही डेयरी उत्पादों से डेयरी क्षेत्र में भी अपनी प्रधानता बनाए हुए है। मेगावाट एसपीवी विद्युत परियोजनाओं के लिए बाजार की मौजूदा परिद्श्य को देखते हुए, कंपनी अपनी रणनीति बदल रही है और सौर पीवी क्षेत्र में प्रचलित व्यापार मॉडल के साथ तालमेल करने का लक्ष्य रखा है। उन्होने कहा कि कम्पनी अभिनव समाधान के माध्यम से विविधीकरण और जटिल भौगोलिक पहुंच पर ध्यान दे रही हैं। उन्होनें भारी उद्योग और लोक उद्यम मंत्रालय, भारत सरकार और राजस्थान सरकार को उनके समर्थन एवं मार्गदर्शन हेतु धन्यवाद दिया।

 

Rajasthan Electronics & Instruments Ltd. (REIL) pays a dividend of Rs.1.03 Crore

 

Shri A.K. Jain, MD REIL handed over the Dividend payment of Rs.1.03 Crore to CMD, Instrumentation Ltd., Kota (Holding company) in the gracious presence of Hon’ble Minister of Heavy Industries & Public Enterprises, Shri Anant G. Geete and Shri Rajan S. Katoch, Secretary, Department of Heavy Industry. REIL maintained all-time high dividend payout continuously for last four years.

 

While acknowledging the work being done by REIL, significantly contributing to National missions, Shri Anant Geete, Hon’ble Minister of Heavy Industries & Public Enterprises emphasized that PSUs should work in synergy with “Make in India” mission of the Government and align their activities to make India a global manufacturing hub. He advised REIL to focus on diversification as country offers unlimited growth potential for Public Sector Industry, to increase domestic value addition and technological depth in manufacturing.

 

Shri A.K. Jain, Managing Director, REIL, said that REIL is one of the largest off-grid SPV solution provider in the country and having very good reputation in the Dairy Sector for its milk testing equipments. Looking to the current market scenario for MW SPV Power Projects, the Company is changing its strategy and aiming to align with the prevailing business model in Solar PV sector. He mentioned that the Company is also focusing on diversification and deeper geographical reach through innovative solutions. He thanked the Ministry of Heavy Industries and Public Enterprises, Government of India and Government of Rajasthan for their support and guidance.

 

 

From Left to Right : (Smt. Ritu Pande, Director, DHI, Shri A.K. Jain, Managing Director, REIL, Shri Vishvajit Sahay, Joint Secretary, DHI, Shri Anant Geete, Hon’ble Union Minister of Heavy Industries and Public Enterprises, Shri Rajan S. Katoch, Secretary, DHI, Shri Ambuj Sharma, Additional Secretary, DHI and Shri M.P. Eshwar, CMD, IL Kota)